You don't have javascript enabled. Please Enabled javascript for better performance.

शक्ति मोबाइल एप्लीकेशन

Start Date: 04-12-2020
End Date: 04-06-2021

शक्ति एप्लीकेशन के बारे में ...

विवरण देखें जानकारी छिपाएँ

शक्ति एप्लीकेशन के बारे में

• शक्ति मोबाइल एप्लिकेशन को महिला के बचाव और सुरक्षा के लक्ष्य से विकसित किया गया है। यह एक एंड्रॉइड आधारित मोबाइल एप्लिकेशन है जो महिलाओं को किसी भी आपात स्थिति में सीधे पुलिस कंट्रोल रूम के साथ-साथ उनके रिश्तेदारों / दोस्तों को एक आपातकालीन कॉल भेजने की अनुमति देगा।

• पंजीकृत उपयोगकर्ता इस ऐप की होम स्क्रीन में उपलब्ध "हेल्प" बटन को केवल स्पर्श करके अलर्ट भेज पाएंगे।

• जैसे ही "हेल्प" बटन को स्पर्श किया जाता है, पुलिस कंट्रोल रूम और उपयोगकर्ता के रिश्तेदारों / दोस्तों को एक अलर्ट भेजा जाता है।

इस एप्लीकेशन की अन्य विशेषताएं

• माई लोकेशन: इसका उपयोग करके आप मानचित्र पर अपना वर्तमान स्थान देख सकते हैं।

• सेफ्टी टिप्स: इस विकल्प में कुछ सेफ्टी टिप्स दिए गए हैं जिनका महिलाओं द्वारा पालन किया जा सकता है।

• सेफ्टी प्लेसेस: इस विकल्प में झारखंड राज्य के सभी पुलिस स्टेशन को मानचित्र पर प्लॉट किया गया है ताकि आपातकाल की स्थिति में इसका उपयोग किया जा सके।

• इमरजेंसी कॉन्टेक्ट्स: इस मेनू में पुलिस स्टेशनों और झारखंड पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का संपर्क विवरण उपलब्ध है।

• “शक्ति” झारखंड पुलिस द्वारा महिलाओं की बचाव और सुरक्षा के लिए एक पहल है। यह एक एंड्रॉइड आधारित मोबाइल एप्लिकेशन है जो महिलाओं को किसी भी आपात स्थिति के मामले में सीधे पुलिस कंट्रोल रूम और उनके रिश्तेदारों / दोस्तों को एक डिस्ट्रेस कॉल भेजने की अनुमति देगा।

• सबसे पहले अपने एंड्रॉइड मोबाइल फोन में एप्लिकेशन डाउनलोड करें और इंस्टॉल करें। फिर, अपना नाम, मोबाइल नंबर और न्यूनतम तीन रिश्तेदारों / दोस्तों को साझा करके ऐप के साथ रजिस्टर करें।

• एक बार पंजीकृत होने के बाद, उपयोगकर्ता होम स्क्रीन पर सॉफ्ट बटन ’HELP’ दबाकर अलर्ट भेज सकता है। जैसे ही हेल्प बटन दबाया जाएगा, उसे पुलिस कंट्रोल रूम के साथ-साथ उनके रिश्तेदारों / दोस्तों को अलर्ट भेज दिया जाएगा।

• आवेदन और सेवा का उपयोग केवल संकट में किया जाना है। झूठी रिपोर्टिंग और किसी भी तरह का दुरुपयोग कानून के तहत दंडनीय होगा।

उपरोक्त कार्य को सफल बनाने के लिए, नागरिकों के सुझाव jharkhand.mygov.in पर आमंत्रित किए जाते हैं।

सभी टिप्पणियां देखें
हटाएं
9 परिणाम मिला
50320

जादूगर आर आनंद PATHAK 13 घंटे 56 मिनट पहले

निशिचत ये बहुत अच्छा कोंगो को इसके बारे में सभी जानकारी देने और महिलाओं को महिलाओं द्वारा व स्वयम सेवी संघठन द्वारा अभियान चला कर जगरुक्त भी किया जाना चाहिए

90980

Arun kumar tiwari 2 weeks 7 घंटे पहले

आज भी ग्राम्य स्तर पर महिलाओं पर अत्याचार, बदसुलूकी, बदतमीजी जैसी घटनाओं में बढ़ोतरी होती जा रही है। एवं शक्ति एप्पलीकेशन के व्यापक प्रचार प्रसार हेतु ग्राम पंचायत स्तर पर भी विभिन्न स्तर के जन जागरूकता शिविर प्रत्येक ग्राम पंचायत क्लस्टर में आयोजित करके किया जा सकता है। जिससे ग्रामीण महिलाओं को भी न्याय आसानी से मिल सके एवं अत्याचारों पर रोकथाम की जा सके। घरेलू हिंसा जैसे श्राप से राज्य को मुक्ति दिलाया जा सके।

90980

Arun kumar tiwari 2 weeks 7 घंटे पहले

साथ ही साथ दुर्भावना पूर्ण के रूप में किये गए फाल्स कॉल्स पर भी जिम्मेदार पर कड़ी कार्यवाही का प्रावधान होना चाहिए जिससे इस महत्वपूर्ण तथा महत्वकांक्षी योजना को भलीभाँति जरूरत मन्द उपयोग कर सके।

90980

Arun kumar tiwari 2 weeks 7 घंटे पहले

साथ ही साथ शक्ति एप्लिकेशन यूजर को फर्स्ट प्राययरिटी देते हुए पुलिस विभाग को हर थेन में 2 पुलिसकर्मियों को एक्टिव मोड में रखा जाना चाहिए जिससे आपातकाल में क्विक रेपॉन्स दिया जा सके। और संकटापन्न स्थिति से आसानी से निपटा जा सके

90980

Arun kumar tiwari 2 weeks 7 घंटे पहले

महिलाओं की सुरक्षा और शक्ति एप्पलीकेशन के बहुता उपयोग के लिए स्कूल, कॉलेजों और महिला हॉस्टल महिला कार्यकारी कार्यस्थलों में इसके उपयोग हेतु जनजागरूकता शिविर आयोजित किया जाना उचित होगा। जिससे इस एप की जानकारी और इस्तेमाल का तरीका सभी को भलीभाँति ज्ञात रहे।

90980

Arun kumar tiwari 2 weeks 7 घंटे पहले

मान्यनीय महोदय जी झारखंड सरकार द्वारा यह बहुत ही उपयोगी मोबाइल एप्पलीकेशन आम महिलाओं के हेतु जारी किया गया है। जो कि सुरक्षा की लिहाज से बहुत ही सार्थक और उपयोगी है।यह एप महिलाओं की सुरक्षा में एक सार्थक कदम साबित होगा।

30040

Narender Kumar 3 weeks 3 दिन पहले

यह एक बहुत अच्छाप्रयास है लेकिन यह भी सिर्फ एक कार्यक्रम ही ण बनकर रह जाए इसके लिए इसको हमेशा एक्टिव रहने की वव्यस्था करनी होगीऔर लोगो में इसके प्रति जागरूकता भी फैलानी होगी ताकि इसे लिए हर जिले में शक्ति मोबाइल जागरूकता अभियान चलाया जाना चाहिए तथा साथ ही स्कूलों एव कोल्लेजो में इसके बारे में समय समय पर लेक्चर या एक्टिविटी करा कर भी लोगो को जागरूक किया जा सकता है .